आम लोगों की तरह लिटरेचर फेस्टिवल में पहुंची मुख्यमंत्री

जयपुर,राजस्थान

मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे सोमवार को अचानक एक आम लोगों की तरह जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में पहुंचीं। वे वहां बुक स्टॉल्स पर गईं और कई प्रख्यात लेखकों की किताबें देखीं। उन्होंने अपने लिए कुछ किताबें भी खरीदीं।

श्रीमती राजे फेस्टिवल में एक आम प्रतिभागी की तरह पहुंचीं और साहित्य के महाकुम्भ में आम साहित्य प्रेमी की तरह शिरकत की। इस दौरान उन्होंने वहां बनाए हुए विभिन्न मण्डपों का अवलोकन किया। वे करीब एक घण्टे लिटरेचर फेस्टिवल में रहीं। इस दौरान उन्होंने लेखकों, महिलाओं एवं युवाओं से बातचीत की। उन्होंने यहां स्कूली बालिकाओं को किताबों पर ऑटोग्राफ भी दिए और कहा कि वे अपने साहित्य पढ़ने की रूचि को इसी तरह बनाए रखें।

मुख्यमंत्री ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि यह लिटरेचर फेस्टिवल साहित्य को प्रोत्साहन देने की दृष्टि से महत्वपूर्ण मंच है। यहां आकर विभिन्न भाषाओं के उन प्रसिद्ध लेखकों से मिलने का मौका भी मिल जाता है जिन्हें हम उनकी साहित्य रचनाओं के माध्यम से ही जानते हैं। उन्होंने यहां बनाए गए माण्डणा चौक की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि माण्डणा आर्ट काबिले तारीफ है।