जयपुर, मार्च 24, 2022.

चैत्र कृष्ण अष्टमी शुक्रवार को शीतलाष्टमी (बास्योड़ा) का पर्व विभिन्न योग संयोगों में मनाया जाएगा। इससे पूर्व गुरुवार को रांधा पुआ मनाया जाएगा । रांधा पुआ के दिन महिलाएं विभिन्न्न प्रकार के पकवान बनाती है ।

शीतलाष्टमी को घरों में चूल्हे नहीं जलेंगे। महिलाएं 16 श्रृंगार कर माता की पूजा अर्चना कर विशेष पकवानों का भोग लगाकर परिवार की सुख समृद्धि की कामना करेगी। ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक ग्रहों के के स्व और उच्च राशि में होनेे के साथ ही शुक्रवार को की जाने वाली माता की आराधना विशेष फलदायी रहेगी।