Published On: Thu, Dec 10th, 2020

जन्मजात हृदय रोग से पीड़ित जरूरतमंद बच्चों को नारायणा हॉस्पिटल, जयपुर देगा नया जीवन – हॉस्पिटल में 12 दिसम्बर 2020 से स्क्रीनिंग कैम्प

Jaipur, December 2020.

हृदय की जन्मजात बीमारियों से जूझ रहे मासूमों के लिए जयपुर शहर के नारायणा मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल ने पहल की है। शनिवार, 12 दिसम्बर से 12 जनवरी तक, प्रातः 10 से 3 बजे, हॉस्पिटल में स्क्रीनिंग कैम्प आयोजित किया जायेगा। इस कैम्प द्वारा चयनित बच्चों (नवजात से 18 वर्ष की उम्र तक) को जिन्हें हृदय सर्जरी या इंटवेंशन करवाने हेतु आर्थिक सहयोग की जरूरत है उन्हें वित्तिय सहायता उपलब्ध करायी जायेगी। हॉस्पिटल के पीडियाट्रिक कार्डियक सर्जन व पीडियाट्रिक कार्डियोलॉजिस्ट (शिशु हृदय रोग विशेषज्ञ) की विशेषज्ञ टीम बच्चों का इलाज करेंगे। शिविर संबंधित जानकारी के लिए 8696026337 पर संपर्क किया जा सकता है। अगर पहले भी बच्चे की कोई जांच करवाई गई हो तो परिजनों को वह रिपोर्ट साथ लानी होगी।

नारायणा मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल, जयपुर की जोनल क्लिनिकल डायरेक्टर डॉ. माला ऐरन ने बताया कि हमारी इस पहल ने पिछले कई सालों में सैंकड़ों जरूरतमंद बच्चों की सहायता की है और अब भी ऐसे, आर्थिक रूप से कमजोर कई बच्चें है जिन्हें सर्जरी द्वारा एक बेहतर जीवन दिया जा सकता है। हम यह भी जानते हैं कि कोरोना महामारी ने कई परिवारों को आर्थिक रूप से कमजोर कर दिया है जिससे वह हृदय सर्जरी या इंटरवेंशन की पूरी राशि वहन करने की स्थिति में नहीं है। इस पहल के माध्यम से हम ऐसे ही जरूरतमंद बच्चों की सहायता करना चाहते है। हम हमारी सहयोगी संस्थाओं के शुक्रगुजार हैं जिनके वित्तीय सहयोग से बच्चों को विश्वस्तरीय इलाज मिल पा रहा है।

नारायणा मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल, जयपुर के सीनियर शिशु एवं बाल हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. प्रशांत महावर ने बताया कि प्रतिवर्ष नारायणा मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल, जयपुर ऐसे कैम्प के जरिए राजस्थान, मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, पंजाब एवं हरियाणा के आर्थिक रूप से कमजोर बच्चों के जन्मजात हृदय विकारों का इलाज करने के कार्य में एक सशक्त माध्यम बना हुआ है। ऐसे कैम्पों के जरिए नारायणा मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल बड़े पैमाने पर बच्चों की हृदय संबंधित परेशानियों के प्रति जागरूकता लाने के लिए प्रयासरत है।   

Live Updates COVID-19 CASES