जयपुर, 21 मई, 2022.

श्री रिजु झुनझुनवाला (आरएसडब्ल्युएम लिमिटेड के चेयरमैन एवं प्रबन्ध निदेशक) की पहल जवाहर फाउन्डेशन ने राजस्थान के बनेरा (शाहपुरा, भीलवाड़ा) और सुरसरा (किशनगढ़, अजमेर) में दो वॉटर एटीएम सेंटरों के लॉन्च के साथ अपने बहु-प्रतीक्षित वॉटर एटीएम प्रोजेक्ट ‘स्वाभिमान जल’ की शुरूआत की है। 

बनेरा सेंटर का उद्घाटन शनिवार, 12 मई को बनेरा के राजा साहब राजाधिराज श्री गोपाल चरण सिसोदिया द्वारा किया गया, इस मौके पर भीलवाड़ा के एसडीएम श्री आशीष मोदी भी मौजूद थे। वहीं सुरसरा सेंटर का उद्घाटन रविवार 22 मई को किया जाना है। 

उद्घाटन के बाद दोनों क्षेत्रों के ये वॉटर एटीएम बनेरा और सुरसरा के निवासियों को स्वच्छ एवं किफ़ायती पेयजल उपलब्ध कराएंगे। क्षेत्र के लोग मात्र रु 7 में 20 लीटर स्वच्छ जल पा सकेंगे, जो जीवन की बुनियादी ज़रूरत है।  

यह पहल राजस्थान के लोगों को स्वच्छ पेयजल एवं पोषक भोजन मुहैया कराने के श्री झुनझुनवाला के ड्रीम प्रोजेक्ट का हिस्सा है। जवाहर फाउन्डेशन के लोकप्रिय कम्युनिटी किचन प्रोग्राम ‘स्वाभिमान भोज’ के माध्यम से भोजन सुरक्षा सुनिश्चित करने के बाद अब यह वॉटर एटीएम प्रोजेक्ट क्षेत्र के लोगों को किफ़ायती दामों पर स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराएगा। 

उद्घाटन समारोह के दौरान प्रोजेक्ट के बारे में बात करते हुए जवाहर फाउन्डेशन के संस्थापक श्री झुनझुनवाला ने कहा, ‘‘राजस्थान को ‘मरूभूमि’ के नाम से जाना जाता है- यह एक ऐसा प्रदेश है जहां पानी का संकट हमेशा बना रहता है। किंतु पानी जीवन की बुनियादी ज़रूरत है और हर व्यक्ति को स्वच्छ एवं सुरक्षित पेयजल मिलना ही चाहिए। हमारा फाउन्डेशन इसी ज़रूरत को समझते हुए क्षेत्र के लोगों की समस्या को हल करने के लिए प्रयासरत है। खासतौर पर गर्मियों के मौसम में जब प्रदेश के लोगों को पानी की भयंकर कमी से जूझना पड़ता है। अपने प्रोजेक्ट ‘स्वाभिमान जल’ के माध्यम से हम राजस्थान के जल संकट को दूर करने के लिए दीर्घकालिक समाधान उपलब्ध कराना चाहते हैं ताकि लोग संगठित तरीके से किफ़ायती दामों पर पेयजल पा सकें। प्रोजेक्ट के लाभार्थियों को एक स्मार्टकार्ड दिया जाएगा, जिसे उन्हें मात्र रु 7 के साथ चार्ज करना होगा। इस तरह वे मात्र रु 7 में 20 लीटर शुद्ध पेयजल पा सकेंगे।’

‘आने वाले दशकों में ग्लोबल वार्मिंग के चलते जल संकट की समस्या और भी गंभीर हो सकती है। हमारा फाउन्डेशन जल संरक्षण के लिए उचित समाधान ढूंढने हेतु प्रतिबद्ध है। अपनी योजनाओं के तहत, हमने प्रकृति के संरक्षण का लक्ष्य तय किया है। हमें खुशी है कि इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए हम राजस्थान के इनोवेटर्स के साथ मिलकर जल संरक्षण एवं सैनिटेशन की चुनौतियों को हल करने के लिए अनूठे समाधान खोज रहे हैं।’ उन्होंने अपनी बात को जारी रखते हुए कहा। 

जवाहर फाउन्डेशन ने प्रदेश की आम जनता को स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने के लिए राजस्थान के विभिन्न हिस्सों में वॉटर कूलर भी लगाए हैं। जवाहर फाउन्डेशन का जवाहर जल संरक्षण प्रोजेक्ट, स्थानीय जल निकायों के पुनरुत्थान पर ध्यान केन्द्रित कर रहा है। हाल ही में उन्होंने पुष्कर झील में 38 लाख लीटर पानी भरा था।