जयपुर, सितंबर 2022.

भारत के सबसे बड़े करियर प्लेटफॉर्म में से एक टॉपरैंकर्स ने हाल में अपने ब्रांड – ज्यूडिशियरी गोल्ड के 12 विद्यार्थियों के राजस्थान न्यायिक सेवा परीक्षा (आरजेएस) में चयन के अंतिम दौर में सफलता प्राप्त करने की घोषणा की है। टॉपरैंकर्स ने शिक्षा और प्रशिक्षण का स्तर कायम रखते हुए यह सफलता दर्ज की है। चुने गए युवा भारतीय न्याय व्यवस्था में बदलाव और सिविल जज के रूप में अपनी पहचान बनाने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। इनमें प्रत्येक विद्यार्थी ज्यूडिशियरी गोल्ड कोर्स के तहत गहन प्रशिक्षण और पढ़ाई के दौर से गुजरे हैं। आरजेएस परीक्षा में हर साल 20000 विद्यार्थी बैठते हैं और इनमें केवल 120 का चयन किया जाता है। इस साल चुने गए 120 उम्मीदवारों में एआईआर रैंक 1, 4, 11, 14, 23 और कई अन्य ज्यूडिशियरी गोल्ड के हैं।

टॉपरैंकर्स के सीईओ और सह-संस्थापक गौरव गोयल ने विद्यार्थियों की सफलता के बारे में बताते  हुए कहा कि, ‘‘हमारे विद्यार्थियों ने परीक्षा के विभिन्न चरणों में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया। हमें सब पर गर्व है। इन युवाओं ने हमारी शिक्षा और अपने कौशल का परीक्षा और साक्षात्कार में सफलतापूर्वक उपयोग किया है। यह टॉपरैंकर्स में हम सभी के लिए गर्व का क्षण है। हमारे विद्यार्थियों के प्रयास और उत्साह ने उनके लक्ष्य प्राप्त करने में सहायक हमारी सहयोग यात्रा जारी रखने को प्रेरित किया है। आज हमारे विद्यार्थी देश में न्याय के भावी ध्वजवाहक हैं और उनके सपने सच करने में मदद करने के हमारे मिशन को जारी रखने के पीछे यही भावना काम करती है।’’

एआईआर 4 तृप्ति जैन ने कहा कि, ‘‘मैंने बहुत मेहनत और लगन से इस परीक्षा की तैयारी की। टॉपरैंकर्स और उनके विशेषज्ञ शिक्षकों की टीम ने मुझे और मेरे बैच मेट को अच्छी तरह प्रशिक्षित किया। हर कदम पर हमारा मार्गदर्शन किया। मुझे खुशी है कि, मेरे सारे प्रयास सफल रहे । मैं भविष्य में इस देश के लोगों की सहर्ष सेवा करने को लेकर उत्साहित हूं।”

हाल के कुछ वर्षों में इंजीनियरिंग (जेईई) और मेडिकल (एनईईटी) जैसे कोर्स में प्रवेश के इच्छुक छात्रों की संख्या में तेज गिरावट आई है। आज के छात्र कुछ नया और लीक से हट कर कोर्स करने के लिए तैयार हैं। टॉपरैंकर्स देश के अग्रणी संस्थानों में से एक है जो लीक से हट कर  लॉ, ज्युडिशियरी, डिजाइन, मैनेजमेंट इत्यादि अन्य क्षेत्र में करियर बनाने के इच्छुक छात्रों का मार्गदर्शन करता है। टॉपरैंकर्स ने अब तक नए जमाने के करियर में रुचि रखने वाले 3 लाख उम्मीदवारों की सफलतापूर्वक मदद की है।