दो साल बाद भारत में कोविड-19 से जुड़े प्रतिबंध खत्म, महाराष्ट्र-दिल्ली में अब फेस मास्क अनिवार्य नहीं

जयपुर, अप्रैल 01, 2022.

देश में कोविड-19 से संबंधित प्रतिबंध आज से समाप्त हो गए । पूरे भारत में कोरोना संक्रमण के मामलों में लगातार गिरावट के बाद यह फैसला लिया गया है।

केंद्र सरकार ने 24 मार्च, 2020 को पहली बार देश में कोविड-19 की रोकथाम के लिए आपदा प्रबंधन अधिनियम, (डीएम अधिनियम) 2005 के तहत आदेश और दिशा-निर्देश जारी किए थे, और इन्हें विभिन्न अवसरों पर संशोधित किया गया।

 भल्ला ने कहा, मौजूदा आदेश 31 मार्च को समाप्त होने के बाद गृह मंत्रालय की ओर से आगे कोई आदेश जारी नहीं किया जाएगा।

केंद्रीय गृह सचिव ने अपने पत्र में लिखा, “मैं सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को सलाह दूंगा कि वे COVID रोकथाम उपायों के लिए डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट, 2005 के तहत लागू आदेशों और दिशानिर्देशों को उचित रूप से बंद करने पर विचार करें.” इसके बाद दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल की अध्यक्षता में आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की एक बैठक में, यह निर्णय लिया गया कि राष्ट्रीय राजधानी में सार्वजनिक स्थानों पर फेस मास्क नहीं पहनने पर कोई जुर्माना नहीं लगेगा।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने गुरुवार को एक बड़े फैसले में कहा कि राज्य सरकार ने कोरोनो महामारी पर अंकुश लगाने के लिए लागू सभी कोविड-19 प्रतिबंधों को ठीक 2 साल बाद हटाने का फैसला किया है, उन्होंने कहा कि 2 अप्रैल से आपदा प्रबंधन अधिनियम और महामारी रोग अधिनियम के प्रावधान अब राज्य में लागू नहीं होंगे ।

अब सामाजिक, धार्मिक या राजनीतिक सभाओं, शादियों, अंतिम संस्कारों, मॉल, सिनेमा, शॉपिंग प्लाजा, होटल, रेस्तरां, स्विमिंग पूल, जिम, खेल गतिविधियों, ट्रेनों, बसों या अन्य से यात्रा करने पर कोई प्रतिबंध नहीं होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.