• September 26, 2021

जयपुर,सितम्बर 2021.

आंकड़ों के अनुसार भारत में हर घंटे (औसतन) 6 दुपहिया वाहन चालकों की मौत होती है, सड़क दुर्घटनाओं में। लेकिन फिर भी बिना हेलमेट के वाहन चलाना व तेज़ गति करना जैसी लापरवाहियां बदस्तूर जारी है। इन्ही चिंताजनक विषयों को ध्यान में रखते हुए नारायणा मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल-जयपुर,यातायात पुलिस-जयपुर के सहयोग से “सजगता से स्वास्थ्य तक” जैसी मुहिम की शुरुआत करने जा रहा है। इसके तहत अगले कुछ महीनों में विभिन्न जागरूकता कार्यक्रमों के माध्यम से लोगों को ट्रैफिक नियमों का पालन करने व ट्रैफिक नियमों की अवहेलना करने पर होने वाले नुकसान से अवगत कराया जायेगा।

इसी मुहिम के पहले चरण में गुरूवार को नारायणा मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल, जयपुर एवं यातायात पुलिस-जयपुर ने जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया जिसमें हेलमेट के महत्त्व के बारे में बताया गया। कार्यक्रम में 20 ऐसे लोगों को भी हेलमेट बांटे गयें जिन्होने कोरोना काल में जन सेवा के कार्य किये थे। इस मुहिम के तहत अगले 5 दिनों तक शहर के 10 बिजी ट्रैफिक पॉइंट्स पर ट्रैफिक पुलिस के अधिकारी व नारायणा मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल, जयपुर के डॉक्टर्स मौजूद रहेंगे। दुपहिया वाहन चालक व उनकी सवारी जो या तो हेलमेट नहीं पहन रहें है या फिर सही क्वॉलिटी का हेलमेट नहीं पहन रहें है उन्हें इससे संबंधित कानूनों से अवगत करवाया जाएगा साथ ही सकारात्मक व्यवहार परिवर्तन के लिए हेलमेट दिये जायेगें।

नारायणा मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल, जयपुर के सीनियर न्यूरो सर्जन डॉ. के.के. बंसल ने बताया कि, कई अध्ययनों के अनुसार दुपहिया वाहन चालकों का केवल हेलमेट पहनना चोटों के जोखिम व गंभीरता को लगभग 72% कम कर सकता है साथ ही मृत्यु की संभावना को भी 39% तक कम कर सकता है। हेलमेट में लगा कुशन, शॉक आब्जॉवर की तरह काम करता है और होने वाली चोट को बहुत कम कर देता है। मेरा सभी से यही अनुरोध है खासकर युवाओं से कि चाहे वें चालक हो या सवारी, गंभीर सिर की चोट से बचने के लिए हमेशा आई.एस.आई. मार्क वाला हेलमेट ही पहनें व ट्रैफिक नियमों का पालन करें।

नारायणा मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल, जयपुर के फेसिलिटी डायरेक्टर-बलविंदर सिंह वालिया एवं जोनल क्लिनिकल डायरेक्ट डॉ. माला ऐरन ने कहा, ट्रैफिक नियमों के प्रति बहुत जागरूकता की आवश्यकता है, सड़क दुर्घटनाओं के जोखिम को कम करने के लिये। हम जयपुर ट्रैफिक पुलिस का धन्यवाद करते हैं जो हर परिस्थिति में अपना फ़र्ज़ निभा रहे हैं ताकि ट्रैफिक व्यवस्था दुरुस्त रह सके। हम श्री राहुल प्रकाश (अतिरिक्त पुलिस आयुक्त द्वितीय, जयपुर) एवं श्रीमती श्वेता धनखड़ (पुलिस उपायुक्त यातायात, जयपुर) के आभारी है कि वह इस मुहिम में हमारा काफी सहयोग कर रहे है।

Related Articles

Live Updates COVID-19 CASES