कोटा, अक्टूबर 2022.

भारत के शीर्ष एड-टेक प्‍लेटफॉर्म पीडब्‍ल्‍यू (फिजिक्‍सवाला) ने बापू की 153वीं जयंती के अवसर पर कोटा स्थित अपने विद्यापीठ में एक रक्‍तदान शिविर का आयोजन किया। इस आयोजन में विद्यार्थी, उनके माता-पिता, शिक्षक और कर्मचारी शामिल हुए। इस कोशिश में,इन लोगों ने सुधा ब्‍लड बैंक और अपना ब्‍लड बैंक को कुल 209 यूनिट रक्‍त का दान किया।

इस शिविर में 102 विद्यार्थियों का हीमोग्‍लोबिन टेस्‍ट और 70 विद्यार्थियों का ब्‍लड टेस्‍ट भी हुआ। शिविर में लगभग 50 छात्राएं भी थीं। रक्‍तदान करने वाले सभी लोगों को इस कोशिश के लिये सराहा गया और प्रमाणपत्र तथा उपहार दिये गये। पीडब्‍ल्‍यू का दृढ़ विश्‍वास है कि रक्‍तदान नैतिक शिक्षा का हिस्‍सा है और इससे विद्यार्थियों में न केवल मानवता की भावना जागती है, बल्कि दूसरों की सहायता करने की प्रवृत्ति भी विकसित होती है।

पीडब्‍ल्‍यू के संस्‍थापक एवं सीईओ अलख पांडे ने कहा, “रक्‍तदान ऐसे मानवीय मूल्‍यों का एक महत्‍वपूर्ण हिस्‍सा है, जिन्‍हें विद्यार्थियों की शिक्षा के शुरूआती दिनों में बढ़ावा दिया जाना चाहिये। जिस तरह मतदान करने से जिम्‍मेदार नागरिक बनने की भावना आती है, उसी तरह 18 वर्ष की आयु के बाद रक्‍तदान करना भी सामाजिक जीवन का आधार है। पीडब्‍ल्‍यू में हम मानते हैं कि ऐसे छोटे-छोटे मानवतावादी काम करना शिक्षित होने जितना ही महत्‍वपूर्ण है। रक्‍तदान शिविर इस प्रतिबद्धता और उन मूल्‍यों का परिचायक है, जो पीडब्‍ल्‍यू के पास हैं और वह हर विद्यार्थी तक इन्‍हें पहुंचाना चाहता है।”