जयपुर, अप्रैल 2022.

पेटीएम के विजय शेखर शर्मा ने शेयरधारकों को संबोधित करते हुए एक पत्र लिखा है, जहां उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि कंपनी अगली 6 तिमाहियों में ऑपरेटिंग EBITDA (ब्याज, कर, मूल्यह्रास और परिशोधन से पहले की कमाई) ब्रेक ईवन हासिल कर लेगी।

“हम अपने व्यापार की गति, मुद्रीकरण के पैमाने और परिचालन उत्तोलन से प्रोत्साहित हैं। हम उम्मीद करते हैं कि यह जारी रहेगा, और मेरा मानना है कि हमें अगली 6 तिमाहियों (यानी सितंबर 2023 की तिमाही की समाप्ति तक) में ऑपरेटिंग EBITDA (ESOP लागत से पहले का EBITDA) हासिल कर लेंगे, जो कि अधिकांश विश्लेषकों के अनुमानों से काफी पहले है। महत्वपूर्ण रूप से, हम अपनी किसी भी विकास योजना से समझौता किए बिना इसे हासिल करने जा रहे हैं, ” उन्होंने लिखा।

पेटीएम ने Q4FY22 को मज़बूती के साथ पूरा किया 

कंपनी ने अपने सभी व्यावसायिक क्षेत्रों में भी शानदार वृद्धि दर्ज की – चाहे वह मन्थली ट्रांसकटिंग यूजर हों, ऑफ़लाइन पेमेंट व डिवाइस डिप्लॉयमेंट हो या फिर पार्टनर आधारित ऋण हो । पेटीएम ने यह भी साझा किया कि उसने अपने सुपर ऐप की सेवाओं की वजह से अभी तक का सर्वोच्च यूजर इंगेजमेंट देखा है।

एक्सचेंजों के साथ साझा किए गए कंपनी के बिजनेस अपडेट के अनुसार, पेटीएम ने वित्त वर्ष ’22 की अंतिम तिमाही में बड़े पैमाने पर वृद्धि देखी है – तिमाही के दौरान 6.5 मिलियन ऋण संवितरण हुआ (वर्ष-दर-वर्ष 374% की वृद्धि), जो INR 3,553 करोड़ (474 मिलियन डॉलर) के कुल मूल्य का है। GMV में सालाना 104% की वृद्धि के साथ INR 2.59 लाख करोड़ (34.5  अरब डॉलर) और मन्थली ट्रांसकटिंग यूजर बेस 41% की वृद्धि के साथ 70.9 मिलियन हो गई। यह ऑफ़लाइन भुगतान व्यवसाय में अग्रणी बना हुआ है, तैनात डिवाइस की कुल संख्या 2.9 मिलियन तक बढ़ी है। दिलचस्प बात यह है कि कंपनी ने साझा किया कि वह प्रति दिन 1000 डिवाइस डिप्लॉय करती है ।

शेयरधारकों के लिए दीर्घकालिक मूल्य बनाने के लिए प्रतिबद्ध

उन्होंने अपने नोट में कंपनी के शेयर की कीमत को भी संबोधित किया और कहा कि वे दीर्घकालिक शेयरधारक मूल्य बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। “विश्व स्तर पर उच्च वृद्धि वाले शेयरों के लिए अस्थिर बाजार स्थितियों की पृष्ठभूमि में, हमारे शेयर आईपीओ से काफी नीचे हैं। निश्चिंत रहें, पूरी पेटीएम टीम एक सफल, लाभदायक कंपनी बनाने और दीर्घकालिक शेयरधारक मूल्य बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। उसके अनुरूप, मेरा स्टॉक अनुदान मुझे तभी दिया जाएगा जब हमारा मार्केट कैप निरंतर आधार पर आईपीओ के स्तर को पार कर जाएगा।

विजय शेखर शर्मा ने पेटीएम में एक मजबूत नेतृत्व टीम बनाने की भी बात कही। “मुझे हमारी कंपनी में मौजूद प्रतिभा पर गर्व है और महत्वाकांक्षी व  उद्यमशील होने की हमारी संस्कृति पर भी  । हम प्रौद्योगिकी और वित्त उद्योग दोनों से महान प्रतिभा के साथ अपनी टीम का विस्तार करना जारी रखते हैं, ”उन्होंने लिखा।