Published On: Sat, Aug 7th, 2021

पॉपुलेशन फाउंडेशन ऑफ इंडिया के ‘हिम्मत है तो जीत है’ एंथम के जरिए महिलाओं के हौसले का सेलीब्रेशन

जयपुर, अगस्त 07, 2021.

अब चूंकि भारत कोविड-19 की विनाशकारी दूसरी लहर के बाद फिर से खुल चुका है, उसमें यह जरूरी है कि हम खुद को और अपनी कम्युनिटीज को संक्रमण के जोखिम से बचाने के लिए कोविड-उपयुक्त व्यवहार (कोविड एप्रोप्रिएट बिहैवियर) जैसे मास्क पहनना, शारीरिक दूरी बनाए रखना और टीकाकरण को जारी रखें।

पॉपुलेशन फाउंडेशन ऑफ इंडिया ने अपने ‘हिम्मत है तो जीत है’ अभियान के तहत एक नया वीडियो लॉन्च किया है, जो न सिर्फ भारत को सुरक्षित रहने की याद दिलाता है, बल्कि देश और अपनी कम्युनिटीज की सेवा करने के लिए स्वास्थ्यकर्मियों, सामाजिक कार्यकर्ताओं और विशेष तौर पर महिलाओं के हौसले को भी सेलीब्रेट करता है।

वीडियो के सशक्त विजुअल्स और बोल के साथ, जो कोविड-19 महामारी की वजह से पैदा हुई चुनौतियों का डटकर सामना करने में जीत की बात करते हैं, यह गाना समाज के व्यापक वर्ग को संबोधित करता है, साथ ही भारत को मजबूती से खड़े रहने और कोविड-19 के खिलाफ जंग जीतने के लिए जरूरी कदम उठाने और उनको सख्ती से पालन करने की जरूरत पर बल देता है।

यह कैंपेन जान-माने फिल्म और थिएटर निर्देशक फिरोज अब्बास खान के मार्गदर्शन में चल रहा है। फिरोज पीएफआई के क्रिएटिव एडवाइजर हैं और उन्होंने प्रमुख ट्रांस-मीडिया एडुटेनमेंट शो ‘मैं कुछ भी कर सकती हूं’ का निर्देशन किया है।

कैंपेन के बारे में बोलते हुए फिरोज कहते हैं “चीजें अब फिर से खुल रही हैं। उम्मीद है, स्कूल भी जल्द ही खुलेंगे जिससे युवाओं को एक बार फिर से सीखने, अपने दोस्तों से मिलने, आगे बढ़ने की जगह मिल सके। हमें यह सुनिश्चित करना चाहिए कि बच्चे और हमारी बाकी कम्युनिटी टीकाकरण के माध्यम से सुरक्षित रहें और मास्क का लगातार उपयोग करें, कुछ समयांतराल पर हाथ धोते रहे और शारीरिक दूरी बनाए रखें।”

फ़िरोज़ अब्बास खान कहते हैं, “ अपने डर का सामना करना और सावधानियों के साथ आगे बढ़ना महत्वपूर्ण है। हिम्मत है तो जीत है, कैंपेन को उम्मीदों को कायम रखने और लोगों की सामाजिक जिम्मेदारी की भावना को मजबूत करने के लिए तैयार किया गया है।”

कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर भारत में जंगल की आग की तरह फैल गई, दूरदराज के ग्रामीण इलाके भी इसकी चपेट में आ गए;  हेल्थ सिस्टम्स पर अत्यधिक बोझ पड़ा और ऑक्सीजन व अन्य चिकित्सा संबंधी जरूरी उपकरणों की आपूर्ति में कमी की वजह से विनाशकारी नुकसान हुआ।

इस बारे में पॉपुलेशन फाउंडेशन ऑफ इंडिया की कार्यकारी निदेशक पूनम मुत्तरेजा कहती हैं, ”देश में सभी का टीकाकरण करना आज सबसे अहम बात है।” वे आगे कहती हैं, “वैक्सीन को लेकर हिचकिचाहट और गलत जानकारी की वजह से टीका न लगवाने की घटनाओं ने लोगों को सुरक्षित करना और आगे बढ़ना, अविश्वसनीय रूप से चुनौतीपूर्ण बना दिया है। हमारा एंथम हिम्मत है तो जीत है सभी लोगों को कोविड-19 के खिलाफ हमारी लड़ाई में एकजुट रहने का आह्वान है और खुद को व अपने समुदायों को सुरक्षित करने के लिए एक रिमाइंडर है।”

Live Updates COVID-19 CASES