जयपुर, मई, 2022.

डेयरी क्षेत्र में तेज़ी से बढ़ते हुए एक तकनीकी स्टार्ट-अप, मूफार्म, भारतीय डेयरी किसानों के लिए विभिन्न सेवाएं प्रदान करके उन्हें आगे बढ़ने  में मदद करने के लिए जाना जाता है, डेयरी किसानों के लिए पशु स्वास्थ्य के बारे में जागरूकता फैलाने और दूध की गुणवत्ता में सुधार करके उनकी आय बढ़ाने के लिए पूरे राजस्थान में एक हजार पशु चिकित्सक कैंप आयोजित करने जा  रहा है।

टांकरडा में आयोजित पहले मूफार्म पशु-कैंप को किसानों द्वारा बहुत अच्छी  प्रतिक्रिया मिली और इसमें लगभग 200 किसानों ने भाग लिया। मूफार्म द्वारा आयोजित ये पशुचिकित्सक कैंप पशुओं के लिए पौष्टिक आहार, पशु की बीमारी के इलाज-दवा और दुधारू नस्ल के पशुधन उपलब्ध कराने पर ध्यान केंद्रित करते हैं। इसके अतिरिक्त, ये कैंप किसानों की  समस्याओं को हल करने के लिए प्रमाणित डॉक्टरों की भी पेशकश करते है। इन सबके साथ, टांकरडा में आयोजित इस कैंप में मूफार्म द्वारा कृमिनाशक गोलियां भी वितरित कीं और अपने स्टीम्ड और संतुलित फीड, मूफीड के बारे में भी किसानों को जागरूक कराया।

आगामी पशु-चिकित्सक कैंप राजस्थान के 1000 गाँवों में आयोजित किए जाएंगे। मूफार्म एप्प किसानों को डेयरी से सम्बंधित हर तरह का  समाधान प्रदान करता है। मूफार्म का उद्देश्य भारत के प्रत्येक  किसान की मदद करना और भारतीय डेयरी उद्योग की प्रमुख चुनौतियों का समाधान करना है।बढ़िया नस्ल के पशु खरीद से लेकर डॉक्टरों की उपलब्धता तक, डेयरी-ज्ञान से लेकर पशु आहार तक, ये सभी सेवाएं मूफार्म पर उपलब्ध हैं।

राजस्थान में डेयरी क्षेत्र सामाजिक-आर्थिक स्थिति में सुधार करने में एक प्रमुख भूमिका निभाता है और  देश में दुग्ध उत्पादन में राज्य दूसरे स्थान पर है, हालांकि यह खराब गुणवत्ता से प्रभावित है।मूफार्म खेत में ही गुणवत्ता नियंत्रण का आश्वासन देकर इसका सुधार  करने की कोशिश कर रहा है।