जयपुर, मार्च 30,2022.

आज 30 मार्च को राजस्थान का स्थापना दिवस 2022 मनाया जा रहा है। मुख्य कार्यक्रम राजधानी जयपुर स्थित अल्बर्ट हाॅल में होगा। सीएम अशोक गहलोत 7 बजे कार्यक्रम का शुभारंभ करेंगे। इस मौके पर बेस्ट आॅफ  राजस्थान कार्यक्रम होगा। एक साथ 550 लोक कलाकार अनूठी प्रस्तुति पेश करेंगे। प्रख्यात गजल गायक रूप कुमार राठौड़ और सोनाली राठौड़ कार्यक्रम पेश करेंगे। कार्यक्रम पर्यटन विभाग की ओर से किया जा रहा है। 73 साल की यात्रा में पिछले 24 साल राजस्थान का नेतृत्व दो दिग्गजों के हाथ में रहा। सीएम अशोक गहलोत और वसुंधार राजे सिंधिया। दोनों ही नेताओं ने राजस्थान स्थापना दिवस पर प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दी है। 

30 मार्च, 1949 को वृहद राजस्थान की स्थापना हुई। सबसे पहले जयपुर, जैसलमेर और बीकानेर रियासतों का राजस्थान संघ बनाया गया। जिसे बाद में राजस्थान कहा गया। कुल 22 रियासतों का 7 चरणों में विलय हुआ। तब जाकर राजस्थान बना। आजाद भारत के राजस्थान राज्य के पहले मनोनीत मुख्यमंत्री हीरा लाल शास्त्री बने। उसके बाद से राजा-रानी के वारिस से नहीं बल्कि लोकतंत्र की मतपेटियों से सरकार बनने लगी। अब राजशाही से हम लोकतंत्र में आधुनिक राजस्थान की ओर बढ़ने लगे थे। अपनी लोक कला और समृद्ध संस्कृति के साथ-साथ राजा- महाराजाओं के शौर्य और बलिदान के लिए  भी जाना जाता है। यहां का पहनावा, खान-पान, भाषा, पर्यटन स्थल बेहद खास है।   इतिहासकारों के अनुसार राजस्थान का अतीत दुनिया की सबसे पुरानी सिंधु सभ्यता के निशानी को समेटे हुए है।