जयपुर, दिसंबर 14, 2021.

मरीजों को किफायती दामों में इलाज देने और समाज के हर तबके तक आधुनिक इलाज की पहुँच सुनिश्चित करने के लिए नारायणा मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल, जयपुर हमेशा से ही प्रतिबद्ध रहा है। कोविड महामारी का कठिन दौर ही क्यों न हो नारायणा हॉस्पिटल ने हर स्तर पर मरीजों की मदद की एवं लगातार जागरूकता कार्यक्रम भी करवाएं। अपने इन्हीं सिद्धांतों को आगे बढ़ाते हुए नारायणा मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल ने राजस्थान सरकार के वन विभाग की निःशुल्क औषधीय पौधें बांटने की योजना (घर-घर औषधि योजना) में सहयोग करने का निर्णय लिया है। इस संयुक्त पहल के तहत अस्पताल मरीजों, कर्मचारियों एवं अपनी सहयोगी संस्थाओं में औषधीय गुणों से लैस पौधों जैसे- तुलसी, अश्वगंधा, गिलोय, कालमेघ आदि को बांटेगा, ताकि घर घर में ऐसे गुणकारी पौधे जा सके और उनके औषधीय गुणों का घरेलू उपचार एवं इम्युनिटी बूस्टिंग में इस्तेमाल किया जा सके।

इस संयुक्त पहल का शुभारंभ हुआ नारायणा मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल, जयपुर में जहाँ वन विभाग के अधिकारी श्री ओमप्रकाश शर्मा (सहायक वन संरक्षक, जयपुर ),  श्री उमेश गुप्ता (क्षेत्रीय वन अधिकारी, जयपुर ) एवं श्री शम्भू लाल शर्मा (नोडल अधिकारी, घर-घर औषधि योजना, जयपुर) सहित नारायणा मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल के फैसिलिटी डायरेक्टर बलविन्दर सिंह वालिया एवं क्लिनिकल डायरेक्टर डॉ. प्रदीप गोयल मौजूद रहे।

कार्यक्रम में औषधीय गुणों से युक्त पौधों के विषय में जानकारी दी गई और उन्हें इस्तेमाल करने के तरीके भी बतायें गये ताकि इस विषय पर और जागरूकता बढ़ सके । अगले कुछ माह नारायणा हॉस्पिटल अपने जागरूकता कार्यक्रमों के अन्तर्गत इन औषधीय पौधों का वितरण करेगें जिससे इस पहल को और गति मिल सके।