• September 28, 2021

जयपुर, अगस्त 03, 2021.

देशभर के छात्रों के लिए नया अकादमिक सत्र शुरू होने के साथ ही वर्ल्ड यूनिवर्सिटी ऑफ डिजाइन वर्ष 2021-22 के फेशर्स का इमर्सिव इंसेप्शन के साथ खुले दिल से स्वागत करने के लिए पूरी तरह से तैयार है – एक अनूठा समावेशन (इंडक्शन) कार्यक्रम जो यूजीसी के दीक्षारंभ के अनुरूप है।

अब अपने दूसरे वर्ष में, डब्ल्यूयूडी का ‘इमर्सिव इंसेप्शन’ कार्यक्रम पिछले साल की सफलता को पीछे छोड़ने का प्रयास करेगा और एक व्यापक तरीके के रूप में सामने आएगा जिससे विश्वविद्यालय में नए प्रवेशकों को नए वातावरण के साथ तालमेल बिठाने में मदद मिलेगी। एसएजीई सिद्धांत (सोशलाइज़िंग, एसोसिएटिंग, गवर्निंग एंड एक्सपीरियंस) के अनुसार और लगभग छह सप्ताह की अवधि के लिए डिज़ाइन किया गया कार्यक्रम दो चरणों में पूरा होगा।

पहला चरण छात्रों को एक तरफ एनीमेशन, फिल्म, एआर/वीआर, ऑटोमोबाइल डायनेमिक्स और डिजाइन, फैशन डिजाइन, डिजिटल और इंटरेक्शन डिजाइन आदि जैसे डिजाइन के विभिन्न पहलुओं की झलक देने के लिए अनुभव और सामाजीकरण के पहलुओं पर काम करने के लिए प्रोत्साहित करेगा और दूसरी तरफ एक- दूसरे से, क्षेत्र के वरिष्ठों और पेशेवरों से मिलने का अवसर देगा।

अधिक अनुभवात्मक शिक्षण के लिए छात्रों को छोटे समूहों में प्रतिदिन कार्यशालाओं में भाग दिलवाया जाएगा जो सामाजीकरण, चर्चा और बातचीत को प्रोत्साहित करेंगे।

दूसरा चरण छात्रों को डब्ल्यूयूडी के प्रति गहरी समझ विकसित करेगा, विश्वविद्यालय और उनकी पसंद के स्कूल के साथ उनके जुड़ाव को मजबूत करेगा, साथ ही उन्हें परिसर के भीतर प्रचलित नियमों और विनियमों, शासन के मुद्दों, छात्र सहायता आदि से परिचित कराएगा।

सांस्कृतिक और रचनात्मक कलाओं, साहित्यिक गतिविधियों और अन्य पाठ्येतर गतिविधियों की श्रृंखला के माध्यम से, छात्रों को उस तरह के जीवन की ओर उन्मुख किया जाएगा जिसकी वे अपने द्वारा चुने गए पाठ्यक्रम के बाद जीने की इच्छा रखते हैं। इन गतिविधियों में स्थानीय क्षेत्र का संक्षिप्त दौरा भी शामिल होगा।

इस अनोखे कार्यक्रम के बारे में विस्तार से बताते हुए वर्ल्ड यूनिवर्सिटी ऑफ डिजाइन के कुलपति डॉ संजय गुप्ता ने कहा, “इंडक्शन कार्यक्रम जो सुनने में रोमांचक और सरल लग सकते हैंउन्हें अत्यंत सावधानी और गंभीरता के साथ लिया जाना चाहिए। यह किसी भी छात्र के लिए एक महत्वपूर्ण समय है जो इस अवधि में अपने भविष्य के बारे में एक नजरिया बनाता है जिसे सही तरह की सलाह से काफी बढ़ाया जा सकता है। एक बार फिर डब्ल्यूडी देश में डिजाइन शिक्षा को कैसे आगे बढ़ाया जा सकता हैइस पर एक मानदंड स्थापित कर रहा है।

इमर्सिव इंसेप्शन छात्रों को एक धारणा बनाने, अपना मन बनाने में मदद करेगा, और विभिन्न उतार-चढ़ावों में संभालना सिखाएगा जो हमेशा विश्वविद्यालय में और उसके बाद उनके जीवन में साथ देंगे – जैसे सहकर्मियों का दबाव, सहयोगियों के साथ संबंध, मानवीय ज़रूरतें (स्वयं एवं शारीरिक), उनकी खुद की और उनके परिवारों की अपेक्षाएं, आकांक्षाएं और समृद्धि।

Related Articles

Live Updates COVID-19 CASES