जयपुर, मई 03, 2022.

पत्रकार जगत में नारद जी को आदि पत्रकार माना जाता है। पूरे भारत के विश्व संवाद केन्द्र नारद जयंती को पत्रकार दिवस के रूप में मनाते हैं। इस दिन पत्रकारिता के विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य कर रहे पत्रकारों को ‘नारद सम्मान’ से सम्मानित किया जाता है।

विश्व संवाद केन्द्र जयपुर ने 2011 में इसकी शुरुआत की। 2019 में पिछला कार्यक्रम हुआ था। कोविड के चलते 2020-21 में कार्यक्रम का आयोजन नहीं हो सका। इस बार यह कार्यक्रम 16 मई को मालवीय नगर के नारद सभागार में आयोजित होगा।

विश्व संवाद केन्द्र के सचिव डॉ. ईश्वर बैरागी ने बताया कि नारद सम्मान हेतु उन सभी पत्रकारों से प्रविष्टियां आमंत्रित की गई हैं, जो राजस्थान में पत्रकारिता करते हुए राष्ट्रीयता, सामाजिक जीवन, समरसता या पर्यावरण जैसे विषयों को प्रभावी रूप से उठाते रहे हैं। पत्रकारिता का क्षेत्र प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक चैनल, पोर्टल, सोशल मीडिया, फोटो या कार्टून कुछ भी हो सकता है।

उन्होंने बताया कि पत्रकारिता जगत में उत्कृष्ट पत्रकारिता से अपनी पहचान बनाने वाले पत्रकार का नाम किसी अन्य के द्वारा उसके कार्य बताते हुए सुझाया भी जा सकता है।

प्रविष्टियां 2-9 मई तक ली जाएंगी। आवेदनकर्ता आवेदन करते समय अपना नाम, पता, जन्मतिथि, फोन नं, किसी संस्थान में कार्यरत हैं या स्वतंत्र पत्रकार हैं, संस्थान में कार्यरत हैं तो संस्थान का नाम, अपना डेजिग्नेशन, फोटो और अपनी अब तक की कोई 5 सर्वश्रेष्ठ स्टोरी मेल करें।