जयपुर, जून 06,2022.

केंद्र सरकार ने सिंगल यूज प्लास्टिक (एसयूपी), खासकर पन्नियों और पानी की बोतलों से पर्यावरण को हो रहे नुकसान को रोकने की दिशा में अहम फैसला किया है। सरकार ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को एडवाइजरी जारी कर सिंगल-यूज प्लास्टिक का इस्तेमाल चरणबद्ध तरीके से बंद करने की सलाह दी है।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड और पर्यावरण मंत्रालय के निर्देशों के मुताबिक देश के 4,704 में से 2,591 शहरी स्थानीय निकायों ने ङ्क्षसगल-यूज प्लास्टिक को पहले से प्रतिबंधित कर रखा है। शेष 2,100 से अधिक निकाय भी 30 जून तक हर हाल में इसे प्रतिबंधित कर दें।

प्लास्टिक की पन्नी और पानी की बोतलों वाले कचरे की सफाई के लिए बड़े पैमाने पर सफाई और अभियान चलाने को कहा गया है। फिलहाल स्वच्छ भारत मिशन-शहरी 2.0 के तहत आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय जो काम कर रहे हैं, उसमें प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन उन्मूलन शामिल है। एडवाइजरी में कहा गया कि सफाई कार्य में तेजी के लिए एसयूपी हॉटस्पॉट की पहचान और उन्हें नष्ट करना जरूरी है।

Live Updates COVID-19 CASES