Sunday, July 5, 2020

IIT मद्रास ने लॉन्च किए BSC का ये प्रोग्राम, बिना JEE के होगा दाख‍िला

Must read

Ananya Panday in awe of Project Runway Season 18, streaming exclusively on Discovery Plus

Bangalore, July 04, 2020. Bravo’s Emmy-winning competition series “Project Runway” returns for another season of high stakes and fierce...

Dedicated Amazon Prime Video app now available on all Windows 10 devices

New Delhi, July 03, 2020. Customers in India can now access Prime Video through a dedicated app available on...

My Talking Tom Friends Achieves Record-Breaking 60 Million Downloads

Mumbai, July 3, 2020:  Outfit7 Limited  today  announced another record-breaking achievement for its latest game,  My Talking Tom Friends. The revolutionary new virtual pet mobile game –the latest from the globally-popular Talking Tom and...

Amazon Prime Video confirms a 31st July 2020 release for the eagerly awaited biopic Shakuntala Devi

MUMBAI, July, 2020. Amazon Prime Video today announced the global premiere of eagerly awaited Hindi title, Shakuntala Devi exclusively...

New Delhi, July 01, 2020.

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) मद्रास भारत का सर्वश्रेष्ठ भारतीय संस्थान है. इसने डेटा विज्ञान और प्रोग्रामिंग में एक ऑनलाइन डिप्लोमा और बीएससी कार्यक्रम शुरू किया है. ये पाठ्यक्रम ऑनलाइन पढ़ाया जाएगा, जबकि परीक्षा सहित इसका मूल्यांकन ऑफलाइन मोड में किया जाएगा. पाठ्यक्रम की कोई आयु सीमा नहीं है और 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने वाले छात्र भी इसमें दाखिला ले सकते हैं.

आईआईटी मद्रास के निदेशक भास्कर राममूर्ति ने कहा कि इन पाठ्यक्रमों के माध्यम से संस्थान का लक्ष्य बड़ी संख्या में छात्रों तक पहुंचना है. इस पाठ्यक्रम के जरिये प्रमाणपत्र, डिप्लोमा और डिग्री प्राप्त कर सकते हैं. 12वीं कक्षा पूरा करने के बाद छात्रों को एक फाउंडेशन कोर्स करना होगा, जबकि जिनके पास कॉलेज स्तर की डिग्री है, वे सीधे डिप्लोमा स्तर पर दाखिला ले सकते हैं.

कोर्स में शामिल होने के इच्छुक छात्र वेबसाइट oniltegree.iitm.ac.in पर ऐसा कर सकते हैं. छात्र फाउंडेशन स्तर के इस पाठ्यक्रम को पूरा करने के बाद प्रमाण पत्र लेते हैं. एक साल के बाद 1 डिप्लोमा प्राप्त कर सकते हैं, तीन साल पूरा करने पर एक डिग्री प्रदान की जाएगी. पाठ्यक्रम को 6 सेमेस्टर में विभाजित किया गया है.

आईआईटी का दावा है कि पाठ्यक्रम कार्पोरेट की मदद से बनाया गया है. प्रथम वर्ष के छात्र प्रोग्रामिंग और डेटा साइंस की मूल बातें सीखेंगे. अंतिम चरण में छात्रों को स्पेशलाइजेशन के बारे में सीखना होगा तीन साल के अंत तक बीएससी की डिग्री प्रदान की जाएगी.

More articles

Latest article

JAC 11th Result 2020 Declared; Check Jharkhand Class 11 Results

Jharkhand, July 05, 2020. The Jharkhand Academic Council (JAC) on Saturday announced JAC Board Class 11th Result 2020

Reliance launches conferencing app JioMeet in competition to Zoom

New Delhi, July 05, 2020. Reliance Jio has launched JioMeet, its answer to Zoom. Mukesh Ambani's telecom company has...

JEE Main and NEET 2020 latest news and live updates: Application correction window started

New Delhi, July 05, 2020. NEET will be held on September 13, from 2 pm to 5 pm while...

PUBG Mobile player spends Rs 16 lakhs from parents’ bank accounts

New Delhi, July 05, 2020. A teenage boy from Punjab spent a whopping Rs 16 lakh on popular battle...

ICAI cancels CA Examinations May 2020

New Delhi, July 05, 2020. The Institute of Chartered Accountants of India (ICAI) has cancelled the Chartered Accountants (CA) May/July...
Live Updates COVID-19 CASES