Published On: Mon, Mar 8th, 2021

खाटू श्याम मंदिर में पैसे लेकर वीआईपी दर्शन के लिए कार्ड जारी करने के मामले की होगी जांच

Khatu Shyam Ji Mandir

राजस्थान के सीकर जिले में स्थित प्रसिद्ध खाटू श्याम जी मंदिर में वीआईपी दर्शनों  के नाम पर चल रहे वीआईपी कार्ड खेल के उजागर होने के बाद देवस्थान विभाग ने स्व प्रसंज्ञान लिया है। देवस्थान राज्य मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने विभाग के आयुक्त को मामले की जांच करने के आदेश दिए है। देवस्थान राज्यमंत्री  डोटासरा ने कहा कि आस्था के नाम लूट किसी भी सूरत में नहीं बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने आयुक्त को खाटू श्याम जी टीम भेजकर वीआईपी दर्शनों के लिए चल रहे कार्डो के मामले की पूरी तथ्यात्मक जांच कराने के निर्देश दिए है। 

इधर देवस्थान विभाग ने इस मामले को वित्तीय अनियमितता की श्रेणी में माना है। विभाग का कहना है कि मंदिर कमेटी की ओर से इस तरह के कार्ड जारी करने के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई। हर बार मंंदिर कमेटी की ओर से मंदिर में किसी तरह के वीआईपी दर्शनों का प्रावधान नहीं होने की बात कही। जबकि भक्तों से कुछ लोगों की ओर से चंदा लेकर कार्ड बनाए जा रहे है। वीआईपी दर्शनों के लिए जिन भक्तों को कार्ड जारी किए हुए है उनमें से कई ने रविवार को जब कन्ट्रोल रूम पर फोन किया तो कहा गया कि अभी बहुत सख्ती है नहीं करा सकते दर्शन। कार्डधारियों के लिए मंदिर के पास बने कार्यालय में भी कई कार्डधारी पहुंचे। इनमें से कुछ को दर्शन भी कराए गए है।

आम भक्तों को घंटों कतार में लगाने और चंदा देने वाले भक्तों को कार्ड के जरिए वीआईपी दर्शन के मामले में राजस्थान के अलावा यूपी, मध्यप्रदेश सहित कई राज्यों के भक्त मंडलों ने भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखा है। जिसमें खाटूश्यामजी मंदिर में वीआईपी दर्शनों का खेल बंद करने की मांग की गई है।

देवस्थान और पर्यटन राज्य मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा  ने कहा कि किन लोगों की ओर से यह वीआईपी कार्ड जारी किए गए है और किस तरह से इन भक्तों को वीआईपी दर्शन हो रहे है, यह पूरा मामला गंभीर है। जिसकी पूरी जांच होगी। देवस्थान विभाग के आयुक्त को मामले की जांच के आदेश दे दिए है। खाटू टीम भेजकर भी इसकी जांच कराई जाएगी।

जयपुर संभागीय आयुक्त डॉ. समित कुमार ने सीकर जिला कलक्टर अवचिल चतुर्वेदी से मामले की पूरी रिपोर्ट मांगी है। खाटू मेले के इंतजामों को लेकर भी वह जल्द अधिकारियों की बैठक भी लेंगे।

Live Updates COVID-19 CASES