• October 28, 2021
नई दिल्ली, फरवरी : आरआईसीएस स्कूल ऑफ बिल्ट एनवॉयरमेंट ने अपने पूर्णकालिक विशेषज्ञता पाठ्यक्रमों के लिए पंजीकरण की घोषणा की है। स्कूल ऑफ बिल्ट एनवॉयरमेंट जो इंडस्ट्री के नेतृत्व में इंडस्ट्री संबंधी कोर्सेज कराने वाला पहला स्कूल है। इस स्कूल में रियल एस्टेट, कंस्ट्रक्शन और इंफ्रास्ट्रक्चर पर स्पेशलाइज्ड एजुकेशन, ट्रेनिंग, रिसर्च और बेस्ट प्रैक्टिस गाइडेंस ऑफर की जाती है। यह इंस्टिट्यूट नोएडा और मुंबई में कैंपस से चार कोर्सेज ऑफर कर रहा है, जिसमें रियल एस्टेट और अर्बन इंफ्रास्ट्रक्चर में एमबीए, कंस्ट्रक्शन प्रोजेक्ट मैनेजमेंट में एमबीए, कंस्ट्रक्शन इकोनॉमिक्स और क्वॉलिटी सर्वेइंग और पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन फैसिलिटीज मैनेजमेंट शामिल है।

जो छात्र बिल्ट एनवॉयरमेंट (रियल एस्टेट, इंफ्रास्ट्रक्चर और कंस्ट्रक्शन सेंक्टर में करियर बनाना चाहते हैं। वह आरआईसीएस एसबीई की वेबसाइट से पोस्ट ग्रेजुएशन के कोर्सेज के लिए आवेदन कर सकते हैं।

एमिटी यूनिवर्सिटी के आरआईसीएस स्कूल ऑफ बिल्ट एनवॉयरमेंट से एमबीए कंस्ट्रक्शन प्रोजेक्ट मैनेजमेंट पहला ऐसा डिग्री प्रोग्राम है, जो भारत में पीएमआई-जेएसी की ओर से मान्यता प्राप्त पहला डिग्री प्रोग्राम है। 

इन दोनों प्रतिष्ठित व्यावसायिक निकायों की ओर से मान्यता देने का मतलब यह है कि अब छात्रों को यह कोर्स करने पर विश्वस्तरीय शैक्षिक अनुभव  हासिल होगा। इसके साथ ही छात्रों की नौकरी करने की क्षमता और योग्यता में भी काफी बढ़ोतरी होगी।

पिछले साल आरआईसीएस स्कूल ऑफ बिल्ट एनवॉयरमेंटने सीईक्यूएस में एमबीए के फाइनल ईयर के स्टूडेंट का फाइनल प्लेसमेंट पूरा किया गया। इसमें सबसे ज्यादा 32 लाख रुपये का इंटरनेशनल पैकेज दिया गया, जबकि 7-8 लाख रुपये का घरेलू पैकेज दिया गया।

 नोएडा और मुंबई कैंपस में एडमिशन लेने के इच्छुक छात्रों के पास निम्नलिखित योग्यताएं होनी चाहिए। 

नोएडा कैंपस-ग्रेजुएशन में कम से कम 50 फीसदी नंबर होने चाहिए। एमएटी में 450 या जीएमएटी में 450 या सीएमएटी में 100 का कम से कम स्कोर होना चाहिए। सीएटी या एक्सएटी में 65, एनएमएटी में 50 पर्सेंटाइल होना चाहिए। या उम्मीदवार को अपने इंटरव्यू के दिन लिखित टेस्ट देना चाहिए। 

मुंबई कैंपस- ग्रेजुएशन में कम से कम 50 फीसदी नंबर होने चाहिए। एमएटी में 500 या जीएमएटी में 500 का स्कोर होना चाहिए। या सीएटी या एक्सएटी में 75, एनएमएटी में 60 का पर्सेंटाइल होना चाहिए। या उम्मीदवार को अपने इंटरव्यू के दिन लिखित टेस्ट देना चाहिए। 

Related Articles

Live Updates COVID-19 CASES