• October 18, 2021

जयपुर, नवंबर , 2019 ।महापुरूषों ने कहा है कि बंधुभाव व आत्मव से की हुई सेवा उत्तम होती है और इसी भाव के साथ सेवा कार्यों में जुटे हैं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवक। जहां अनेकों स्वयंसेवक निःस्वार्थ भाव से अनामिक रहकर देशभर में सेवा कार्य कर रहे हैं।

यही नहीं स्वयंसेवकों की प्रेरणा से भी बड़ी संख्या में चल रहे सेवा कार्य समाजोत्थान में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं।

ऐसे ही सेवा कार्यों से समाज को अवगत कराने के लिए समर्पण नाम से धारावाहिक बना है। 

इस धारावाहिक के 52 एपिसोड होंगे, जो प्रत्येक रविवार को सुबह 10 बजे दूरदर्शन के राष्ट्रीय चैनल पर प्रसारित होगा तथा पहला एपिसोड 17 नवम्बर से प्रारम्भ होगा।

गत 94 वर्षों में स्वयंसेवकों ने समाज परिवर्तन के लिए अनेकों कार्य किए हैं । संघ के 6 कार्य विभागों में से एक सेवा विभाग के माध्यम से भी स्वयंसेवक सेवा कार्य में जुटे रहतेहैं।

 संघ के संस्थापक डॉ केशव बलिराम हेडगेवार की जन्म शताब्दी पर वर्ष 1989 में प्रारम्भ हुए सेवा भारती संगठन के कार्यकर्ताओं के साथ स्वयंसेवक बड़ी मात्रा में जुड़े तथादेशभर में लाखों की संख्या में सेवा कार्य करते हुए वंचित समाज के जीवन स्तर में सुधार का हरसंभव प्रयास किया जा रहा है।

ऐसे में ही उत्कृष्ट परिणामकारी सेवा कार्यों परबना है समर्पण धारावाहिक को दूरदर्शन के केन्द्रीय प्रभाग द्वारा प्रसारित होगा।

देश के प्रत्येक उपखंड में चल रहे सेवा कार्य

प्रान्त सेवा प्रमुख ने बताया कि गत कई दशक से संघ के स्वयंसेवकों के परिश्रम व उनकी प्रेरणा से देश के प्रत्येक उपखण्ड पर न्यूनतम एक सेवा कार्य संचालित हो रहा है।

इसके साथ ही स्वास्थ्य के क्षेत्र में 12 हजार 978, शिक्षा के 93 हजार 334, सामाजिक कार्यों के 15 हजार 552 व स्वावलंबन के 8 हजार 198 समेत कुल 1 लाख 30032 सेवा कार्यदेशभर में चलाए जा रहे हैं।

 इन सेवा कार्यों के माध्यम से समाज के वंचित पिछड़े जन के लोगों के जीवन स्तर में सुधार का प्रयास स्वयंसेवकों द्वारा अनवरत किया जा रहा है।

राजस्थान के सेवा प्रमुख शिवलहरी ने बताया सेवा भारती की परंपरा है। स्वांत सुखाय, समष्टि के हित में ही जीवन की सार्थकता, साधक की मनोवृति से नि:स्वार्थ भाव से नींवका पत्थर बन अनामिक रह जीवन भर कार्य करना सदैव से भारत का वैशिष्टय रहा है। विविध समाजसेवी संगठन द्वारा वर्षानुवर्ष चलाये जा रहे ऐसे

विभिन्न सेवाकार्य अब समाज के सामने आने वाले हैं

इन कार्यों का उचित प्रचार कर सकारात्मकता का भाव समाज में जगा सकते हैं । इस धारावाहिक का लेखन मराठी के प्रसिद्ध नाट्य लेखक अभिराम दामोदर भड़कमकर जी ने किया हैं।

सेवा भारती के संगठन मंत्री मूलचंद सोनी ने आग्रह किया है इसे समाज के सभी आयु वर्गों के लोग अवश्य देखे और सभी को देखने हेतु प्रवृत्त करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES